Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur : क्या है बागेश्वर धाम की सच्चाई? आइये जानें !

Rate this post

Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur की लोकप्रियता प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। पुरानी कथाओं के अनुसार ऐसा माना जाता है कि बागेश्वर धाम में स्वयं हनुमान जी महाराज वास करते हैं जिसके कारण श्रद्धालुओं की लाइन बागेश्वर धाम में लगी रहती है।

आजकल इसकी लोकप्रियता और भी ज्यादा बढ़ती जा रही है जिसका कारण है कि यहां का सत्संग टीवी के माध्यम से सीधा प्रसारित किया जाने लगा है जो पूरे देश में कहीं से भी देखा जा सकता है। श्रद्धालु टीवी के माध्यम से बागेश्वर धाम की कहानी सुनते हैं यहां का सत्संग सुनते हैं और अपनी मनोकामनाओं को लेकर यह आते हैं ताकि उनके दुख-दर्द तकलीफ दूर हो सके।

बहुत श्रद्धालुओं का मानना है कि उनकी मनोकामना यहां आने से पूर्ण हो गई। बागेश्वर धाम की प्रसिद्धि पंडित धीरेंद्र शास्त्री के माध्यम से बढ़ती जा रही है। सोशल मीडिया पर उनके फॉलोअर की संख्या लाखों करोड़ों में है और टीवी के माध्यम से भी करोड़ों लोगों को देखते हैं और इनसे प्रभावित होते हैं। इनके भक्तों का मानना है कि यह किसी भगवान से कम नहीं कुछ लोग तो इन्हें भगवान का दर्जा देते हैं।

आज हम बागेश्वर धाम से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण जानकारी इकट्ठा करेंगे और साथ ही बागेश्वर धाम में कैसे जाएं और बागेश्वर धाम की क्या-क्या विशेषताएं हैं यहां पर आने जाने में कितना खर्च लगने वाला है इसके बारे में बात करने वाले हैं।

Join Whatsapp Group

Join Telegram Group

Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur : Overview

संस्था का नामबागेश्वर धाम बालाजी छतरपुर
आर्टिकल का नामBageshwar Dham Sarkar Chhatarpur 2023
संचालकपंडित धर्मेंद्र शास्त्री
प्रभु का मंदिरहनुमान जी (बालाजी महाराज)
राज्यमध्य प्रदेश
Bageshwar Dham AddressGarha, Ganj, Chhatarpur, Madhya Pradesh, India-471105
गूगल मैपhttps://goo.gl/maps/bwWSbwCxxbrTezp69
यूट्यूब चैनलबागेश्वर सरकार
ऑफिसियल वेबसाइटयहां क्लिक करें

Bageshwar Dham Sarkar Loaction पर कैसे जाएँ ?

बागेश्वर धाम मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में स्थित है। यहां पर जाने के लिए आप बस ट्रेन अथवा हवाई जहाज का सहारा ले सकते हैं। मध्य प्रदेश के छतरपुर में जाने के लिए आपको सबसे पहले मध्यप्रदेश में पहुंचना पड़ेगा। मध्यप्रदेश में पहुंचने के बाद छतरपुर जिले तक पहुंचे।

  • हवाई जहाज: हवाई जहाज के माध्यम से पहुंचने वाले श्रद्धालुओं को अपने लोकेशन से खजुराहो एयरपोर्ट अथवा ग्वालियर का टिकट लेना पड़ेगा। यहां पहुंचने के बाद आप बागेश्वर धाम मंदिर के लिए बस अथवा टैक्सी के माध्यम से प्रस्थान कर सकते हैं।
  • ट्रेन यात्रा: देश के किसी भी राज्य में रहने वाले व्यक्ति ट्रेन के माध्यम से भी यात्रा कर सकते हैं ट्रेन के माध्यम से आप छतरपुर स्टेशन तक जा सकते हैं और उसके बाद आपको बस अथवा टैक्सी का सहारा लेना पड़ेगा। अगर आप दिल्ली के निवासी हैं तो दिल्ली से छतरपुर के लिए डायरेक्ट ट्रेन मिल जाएगी। अन्य किसी राज्य के निवासी आईआरसीटीसी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर अपने लोकेशन से छतरपुर लोकेशन पर जाने वाले ट्रेन की जानकारी ले सकते हैं।
  • बस अथवा प्राइवेट गाड़ी: बस से भी आप छतरपुर के लिए यात्रा तय कर सकते हैं लेकिन बस के माध्यम से यात्रा करना थोड़ा सा मुश्किल होगा क्योंकि छतरपुर का डिस्टेंस अधिक है और हर राज्य से आपको बस की सेवा नहीं प्राप्त हो सकती है। लेकिन अगर आप दिल्ली के निवासी हैं तो आपके लिए गुड न्यूज़ है वहां से आपको डायरेक्ट छतरपुर के लिए बस सेवा प्राप्त हो जाएगी। उत्तर प्रदेश के निवासियों के लिए भी अच्छी खबर है वह लखनऊ से छतरपुर के लिए बस पकड़ सकते हैं।

Chhatarpur To Bageshwar Dham Distance

छतरपुर जिले में लगभग 40 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद खजुराहो पन्ना रोड के माध्यम से गंज नामक छोटे कस्बे से होकर करीब 3 किलोमीटर दूर बड़ागांव के पास बागेश्वर धाम स्थित है। मंदिर के मुख्य संचालक पंडित धीरेंद्र शास्त्री जी भक्तों की समस्याओं को यहीं पर सुनते हैं और टीवी पर लाइव प्रसारण यही से किया जाता है।

  •  लोकेशन : मध्य प्रदेश
  • जिला : छतरपुर
  • दूरी : 40 किलोमीटर (छतरपुर के अंदर 40 किलोमीटर की दूरी तय करने पर बागेश्वर धाम मिलता है)
  • रोड का नाम: खजुराहो पन्ना रोड
  • कस्बा: गंज (कस्बे से मंदिर की दूरी 3 किलोमीटर)
  • गांव का नाम: बड़ागांव
  • साधन : बस, ट्रेन अथवा टैक्सी

गूगल मैप से Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur कैसे ढूंढे?

बागेश्वर धाम जाने के लिए आप गूगल मैप का इस्तेमाल कर सकते हैं। गूगल मैप के माध्यम से आप बहुत ही आसानी से बागेश्वर धाम का लोकेशन सेट कर सकते हैं और आप लोकेशन पर पहुंच सकते हैं।

बागेश्वर धाम पहुंचने से पहले आपको सबसे पहले मध्यप्रदेश में पहुंचना होगा यदि आप मध्य प्रदेश के निवासी हैं तो आप मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में पहुंचने के बाद नीचे दिए गए स्टेप का इस्तेमाल कर सकते हैं। बाकी अन्य राज्यों से आने वाले श्रद्धालु पहले मध्य प्रदेश पहुंचेंगे और उसके बाद छतरपुर और फिर गूगल मैप का इस्तेमाल करके बागेश्वर धाम पहुंच सकते हैं।

Bagheshwar Dham Location Google Map Link: https://goo.gl/maps/bwWSbwCxxbrTezp69

बागेश्वर धाम पहुंचने के लिए कैसे करेंगे गूगल मैप का इस्तेमाल-

  • सबसे पहले अपने मोबाइल में गूगल मैप एप्लीकेशन ओपन करें।
  • टाइप करें ” बागेश्वर धाम छतरपुर”
  • इंटर करने के बाद आपके सामने पैदल, बस, बाइक, ट्रेन सभी रास्ते दिखाई देने लगेंगे।
  • अपनी आवश्यकतानुसार रास्ते पर को चुने। और मोबाइल में गूगल मैप को खुला रखें।
  • मोबाइल में गूगल मैप आपको गाइड करता रहेगा।

ऊपर दिए गए टेबल में Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur के लोकेशन पर पहुंचने का लिंक दिया है जिस पर क्लिक करके आप डायरेक्ट लोकेशन को देख सकते हैं।

Bageshwar Dham Sarkar Guruji Name, Age, Marriage, Biography

बागेश्वर धाम सरकार के वर्तमान संचालक पंडित श्री धीरेंद्र शास्त्री का जन्म मध्यप्रदेश में ही एक गरीब ब्राह्मण परिवार में हुआ था इनकी माता का नाम श्रीमती सरोज देवी है और पिता का नाम पंडित राम कृपाल शास्त्री है। इनका जन्म 15 जुलाई 1996 को हुआ था। ऐसा बताया जाता है कि इनका बचपन बहुत ही गरीबी में बीता और क्योंकि यह ब्राह्मण परिवार से आते थे इसलिए इनके परिवार का पालन पोषण दीक्षा एवं दक्षिणा पर हुआ।

bageshwar dham sarkar photo

Bagheshwar Dham Sanchalak

पंडित धीरेंद्र शास्त्री अपनी पारिवारिक स्थिति को लेकर बहुत ही चिंतित थे लेकिन उन्हें परमात्मा पर भरोसा था और उनका मानना था कि इस कठिन घड़ी में परमात्मा उनकी परीक्षा ले रहे हैं। इस विश्वास के साथ अपना जीवन व्यतीत कर रहे थे।

भक्ति भाव की भावना पंडित जी के अंदर बचपन से ही थी वह बचपन से ही मेडिटेशन एवं साधना करते थे। पंडित जी बताते हैं कि उन्हें दो बार अज्ञातवास का स्वप्न आया और उन्होंने इसके बारे में अपने पिता और माता को बताया लेकिन उन्हें इस बात पर विश्वास नहीं हुआ।

पंडित जी कहते हैं कि अज्ञातवास क्या होता है इसके बारे में पता चलने के बाद उन्होंने अज्ञातवास का जीवन यापन करने का निर्णय लिया और उसे पूरा भी किया।

पंडित जी के अनुसार बालाजी महाराज उनके सपने में आए और उन्होंने बताया कि तुम्हारे जीवन का उद्देश्य कैसे पूरा हो सकता है। उन्होंने बताया कि साधना का मार्ग अपनाओ और अपने जीवन को लोगों के दुख और दर्द को दूर करने में समर्पित कर दो यही तुम्हारे जीवन का उद्देश्य है।

आज वर्तमान समय में पंडित श्री देवेंद्र शास्त्री को केवल भारत देश नहीं बल्कि पूरी दुनिया के श्रद्धालु उन्हें जानते हैं और उनका सत्संग सुनने और अपने दुखों के निवारण के लिए बागेश्वर धाम आते हैं।

पंडित जी का नामपंडित श्री धीरेंद्र शास्त्री
उम्र26 साल
जन्मतिथि15 जुलाई 1996
पत्नी…………….
माता का नामसरोज देवी
पिता का नामश्री रामकृपाल शास्त्री
जन्म स्थानमध्य प्रदेश
संचालकबागेश्वर धाम छतरपुर, मध्य प्रदेश

बागेश्वर धाम छतरपुर की सच्चाई क्या है?

बागेश्वर धाम छतरपुर जिले में स्थित बागेश्वर स्वयंभू महादेव का मंदिर है। स्वयंभू का मतलब होता है भगवान हनुमान जी। भगवान हनुमान जी को लोग बालाजी के नाम से पुकारते हैं इसलिए इसे बालाजी का मंदिर भी कहा जाता है। यह चमत्कारी मंदिर है जहां पर श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रहती है।

श्रद्धालुओं का मानना है कि यहां आने से उनके दुख दर्द दूर हो जाते हैं और उनके मनोकामनाएं पूरी हो जाते हैं। जहां पर पंडित जी श्रद्धालुओं की अर्जी लगाते हैं। और उनका कहना है कि या भगवान तक पहुंचाई जाती है। जिसका समाधान भगवान खुद पंडित श्री धीरेंद्र शास्त्री के माध्यम से बताते हैं।

यहां पर भारत के अलावा देश-विदेश से आने वाले श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रहती है। हर दिन यहां पर अर्जियां लगती हैं और श्रद्धालुओं की समस्याओं का समाधान किया जाता है।

बागेश्वर धाम में अर्जी कैसे लगाई जाती है?

यह सवाल हम सबके मन में होता है जो भी श्रद्धालु बागेश्वर धाम के बारे में जानते हैं और वहां पर जाना चाहते हैं उन्हें इस बात का जवाब जरूर जाना होता है की अर्जी क्या होती है और कैसे लगाई जाती है ?

सबसे पहले अर्जी लगाने का मतलब समझते हैं अर्जी लगाने का मतलब है कि भगवान तक आपकी बात, आपकी समस्या कैसे पहुंचाए जाए इसे अर्जी लगाना कहते हैं। आप समझते हैं अर्जी लगाते कैसे हैं।

पंडित जी बताते हैं कि अर्जी लगाने के लिए आपको कहीं पर जाने की आवश्यकता नहीं है आप अपने घर बैठ कर भी बागेश्वर धाम में अर्जी लगा सकते हैं। अर्जी लगाने के लिए “एक लाल कपड़ा ले जिसे सूखे नारियल के ऊपर लपेटकर बागेश्वर धाम का ध्यान लगाकर अपने पूजा घर अथवा मंदिर में रख दें।” ऐसा करने के बाद आपकी अर्जी स्वीकार की गई है अथवा नहीं इसके बारे में जानने के लिए यदि हनुमान जी महाराज अगले 2 दिनों के अंदर किसी भी तरह आपके सपने में दिखाई देते हैं तो इसका मतलब है कि आपकी अर्जी स्वीकार कर ली गई है।

इस प्रकार आप घर बैठे ही अर्जी लगा सकते हैं आपको कहीं पर जाने की कोई आवश्यकता नहीं है अर्जी लगाने के बाद आप बागेश्वर धाम जा सकते हैं और समस्या का समाधान पा सकते हैं।

Bageshwar Dham Sarkar Chhatarpur पूछे जाने वाले महत्वपूर्ण सवाल

बागेश्वर धाम सरकार कहां पर स्थित है ?

बागेश्वर धाम सरकार मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में गंज नामक छोटे कस्बे के समीप बड़ागांव में स्थित है।

बागेश्वर धाम सरकार के गुरु जी का क्या नाम है?

बागेश्वर धाम के मुख्य संचालक उर्फ गुरुजी का पूरा नाम पंडित श्री वीरेंद्र शास्त्री है।

बागेश्वर धाम सरकार के गुरु जी की उम्र कितनी है ?

बागेश्वर धाम के गुरु जी श्री धीरेंद्र शास्त्री की उम्र मात्र 26 साल है।

बागेश्वर धाम सरकार जाने के लिए कौन-कौन से साधन उपलब्ध है?

बागेश्वर धाम जाने के लिए बस, ट्रेन, हवाई जहाज हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध है।

बागेश्वर धाम सरकार का एड्रेस क्या है ?

बागेश्वर धाम का एड्रेस है: Garha, Ganj, Chhatarpur, Madhya Pradesh, India-471105

अंतिम शब्द

आज के इस लेख में बागेश्वर धाम के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। जहां पर हमने आपको बताया बागेश्वर धाम की विशेषता क्या है और तुम लोग यहां पर आते हैं साथ-साथ बागेश्वर धाम में जाने के लिए सबसे आसान माध्यम क्या है इसके बारे में हमने बात किया गुरु जी की जीवनी के बारे में थोड़ा सा जाना। और भी महत्वपूर्ण बातें जिसके बारे में हमने चर्चा की।

इस लेख में की गई सारी बातें अलग-अलग सोर्स के माध्यम से ली गई है। यदि जानकारी में किसी भी प्रकार की त्रुटि होती है तो इसकी जिम्मेदारी हमारी नहीं है। हालांकि हमने पूरी कोशिश की है कि आपको सही जानकारी दी जाए। अगर आपको लेख पसंद है तो कमेंट में जरूर लिखेगा धन्यवाद!

इसे भी पढ़ें :

Sharing Is Caring:

Hi There! this is Er. Durgesh a professional blogger, having 5 years of experience in blogging. I love to gather information and write about them. The aim of this blog is to keep you posted with every important update. So, keep visiting and keep learning.

Leave a Comment

close button