Heart Touching Republic Day Quotes In Hindi

Rate this post

Republic Day 2022: 26 जनवरी हम भारतीयों के लिए किसी त्योहार से कम नहीं है। इस दिन पूरे भारतवर्ष में बड़े धूमधाम से हर स्कूल कॉलेज में झंडे फहराए जाते हैं और बहुत ही धूमधाम से गीत संगीत रंगमंच कार्यक्रम और वीर जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए, हमारी आजादी के लिए शहीद हुए वीरों को याद करते हुए इसे मनाते हैं।

आज के दिन देश के प्रधानमंत्री राजधानी दिल्ली मैं स्थित लाल किले से देश को संबोधित करते हैं। हर साल 26 जनवरी के अवसर पर पूरे विश्व के किसी न किसी देश से दिग्गज नेता को निमंत्रण दिया जाता है और वह इस आयोजन में भाग लेते हैं।

इस साल 26 जनवरी 2023 को हम 74वां गणतंत्र दिवस मनाने वाले हैं। आज ही के दिन हमारे देश का संविधान लागू किया गया था। संविधान समिति के मुख्य डॉ भीमराव अंबेडकर ने 26 जनवरी 1948 को संविधान को संसद में प्रस्तुत किया था जिसे 26 जनवरी 1949 को कुछ संशोधन के बाद लागू कर दिया गया था।

वर्तमान समय में इसे संविधान के आधार पर हमारा देश विकास की दिशा में प्रगतिशील है। हमारे देश का संविधान विश्व का सबसे बड़ा संविधान है और हम विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र के निवासी हैं। इसलिए हमें भारतीय होने पर गर्व करना चाहिए।

अगर आप एक भारतीय हैं तो 26 जनवरी के अवसर पर अपने प्रिय लोगों से मिलते होंगे उनके साथ कुछ अच्छे शब्द साझा करते होंगे। अच्छे वीडियो साझा करते होंगे। इसी क्रम में आज हम दिल को छू लेने वाले कुछ कोटेशन इस आर्टिकल के माध्यम से देने वाले हैं।

Join Whatsapp Group

Join Telegram Group

Top 10 Heart Touching Republic Day Quotes In Hindi

इस बार के गणतंत्र दिवस के अवसर पर यदि आप अपने दोस्तों, फैमिली और सोशल मीडिया पर Republic Day Quotes भेजना चाहते हैं तो आपके लिए टॉप कोटेशन नीचे दिए गए हैं जिसे आप व्हाट्सएप स्टेटस, फेसबुक इंस्टाग्राम कहीं भी शेयर कर सकते हैं।

  1. भूख, गरीबी, लाचारी को, इस धरती से आज मिटायें, भारत के भारतवासी को,उसके सब अधिकार दिलायें आओ सब मिलकर नये रूप में गणतंत्र मनायें ।
  2. खुश नसीब है वह भी जो वतन पर मर मिट जाते हैं, मर कर भी वो वीर अमर हो जाते हैं, करता हूँ उन्हें सलाम ए वतन पर मिटने वालों तुम्हारी हर साँस में बसता तिरंगे का नसीब है। गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।
  3. ना जियो घर्म के नाम पर, ना मरों घर्म के नाम पर, इंसानियत ही है धर्म वतन का, बस जियों वतन के नाम पर। भारत माता की जय !!
  4. दे सलामी इस तिरंगे को, जिससे तेरी शान है, सर हमेशा ऊंचा रखना इसका जब तक तुझ में जान है। गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं !!
  5. कुछ नशा तिरंगे की आन का है, कुछ नशा मातृभूमि की शान का है, हम लहराएंगे हर जगह ये तिरंगा, नशा ये हिंदुस्तान की शान का है!! गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं
  6. देशभक्त शहीदों के बलिदान से, स्वतन्त्र हुए है हम कोई पूछे कौन हो, तो गर्व से कहेंगे भारतीय है हम। गणतंत्र दिवस की ढ़ेरो शुभकामनाये !
  7. अमेरिका देखा, पेरिस देखा, देख लिया जापान, लेकिन पूरी दुनिया में हमको मिला ना हिंदुस्तान।
  8. हमारी शान है तिरंगा, जान है तिरंगा सर पर रखा है हमने देश की पहचान है तिरंगा। गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं!
  9. देश का गणतंत्र है महान इसकी महिमा है महान धर्म, जाति है समान यहां, यह देश पूरे जहां में महान। गणतंत्र दिवस की बधाई 2022!
  10. अलग हैं बातें, अलग है भाषा, अलग है सबके विचार, लेकिन एक है तिरंगा अपना,एक है सर्वश्रेष्ठ हिंदुस्तान। हैप्पी रिपब्लिक डे 2023
  11. ना काम मेरा है, ना बड़ा सा नाम मेरा है, मुझे तो गर्व इस बात का मैं हिंदुस्तान का और हिंदुस्तान मेरा है।

26 जनवरी के दिन दोस्तों को भेजे जाने वाले कुछ महत्वपूर्ण कोटेशन

वतन हमारा ऐसा की कोई ना छोड़ पाए
रिश्ता हमारा ऐसा की कोई ना तोड़ पाए,
दिल एक है एक जान है हमारी
ये हिंदुस्तान शान है हमारी…
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं…

ना पूछो जमाने से कि
क्या हमारी कहानी है,
हमारी पहचान तो बस
इतनी है कि हम सब
हिन्दुस्तानी हैं…
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं…

देश भक्तों के बलिदान से, स्वतंत्र हुए हैं हम
कोई पूछे कौन हो, तो गर्व से कहेंगे, हिन्दुस्तानी हैं हम!

लहराएगा तिरंगा अब सारे आस्मां पर,
भारत का नाम होगा सब की जुबान पर,
ले लेंगे उसकी जान या दे देंगे अपनी जान,
कोई जो उठाएगा आंख हमारे हिंदुस्तान पर.

राष्ट्र के लिए मान-सम्मान रहे,
हर एक दिल में हिन्दुस्तान रहे,
देश के लिए एक-दो तारीख नहीं,
भारत मां के लिए ही हर सांस रहे.
Happy Republic Day 2022

गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है ?

हर साल 26 जनवरी के दिन हम गणतंत्र दिवस मनाते हैं। ऐसा माना जाता है हमारा भारत देश अंग्रेजों से 26 जनवरी के दिन ही अर्ध रूप से आजाद हुआ था। और इसी दिन हमारा संविधान भी लागू हुआ था। जिसे बनाने के लिए 22 समितियां बनाई गई थी और जिसने प्रारूप समिति के अध्यक्ष डॉ भीमराव अंबेडकर मुख्य थे जिन्होंने 2 साल की 11 महीने और 18 दिन में पूरा किया।

संविधान को बनाने के लिए कुल 22 समितियां बैठाई गई थी और हर समिति का अपना उद्देश्य था। वर्तमान समय में संविधान के निर्माता डॉक्टर भीमराव अंबेडकर को बताया जाता है लेकिन केवल भीमराव अंबेडकर ही संविधान के निर्माता नहीं थे उनके साथ मिलकर बहुत से लोगों ने संविधान के निर्माण में अपनी भूमिका निभाई थी। 26 जनवरी 1948 को डॉक्टर अंबेडकर ने संविधान सभा में संविधान को पेश किया जिसे उस समय स्वीकार नहीं किया गया लेकिन ठीक 1 साल बाद 26 जनवरी 1949 को कुछ संशोधन के साथ संविधान को लागू कर दिया गया।

आज के दिन भारत के राष्ट्रपति दिल्ली के लाल किले पर तिरंगा फहराते हैं। इस अवसर पर देश के प्रतिष्ठित स्कूल के बच्चे आकर्षक और मनमोहक प्रोग्राम करते हैं। जिसे टेलीविजन पर देखा जा सकता है। राजपथ को बहुत ही धूमधाम से सजाया जाता है एवं अलग-अलग प्रदेश की संस्कृति के अनुसार उसकी झांकियां प्रस्तुत की जाती हैं।

26 जनवरी का दृश्य बहुत ही मनमोहक होता है। इस दिन पूरे देश में कहीं भी आप जाएं बहुत ही धूमधाम से 26 जनवरी के दिन को एक त्यौहार की तरह मनाया जाता है। इसीलिए हमारा देश पूर्ण स्वराज घोषित हुआ था।

Sharing Is Caring:

Hi There! this is Er. Durgesh a professional blogger, having 5 years of experience in blogging. I love to gather information and write about them. The aim of this blog is to keep you posted with every important update. So, keep visiting and keep learning.

Leave a Comment

close button