How To Apply Pradhanmantri fasal Bima Yojana 2022 | कैसे करें आवेदन | मिलेगी 2 लाख बिमा राशि

Rate this post

Pradhanmantri fasal Bima Yojana 2022: आज के समय में खेती करना पहले की तुलना में भले ही आसान हो गया है लेकिन आज भी भारत का किसान सिंचाई के लिए बारिश पर निर्भर रहता है।

पिछले कुछ सालों से जिस तरह से वर्षा हो रही है यह बहुत ही चिंता का विषय है कभी-कभी यह वर्षा इतनी ज्यादा हो जाती है कि बाढ़ जैसी स्थिति बन जाती है और कभी-कभी ऐसा भी होता है कि बारिश बिल्कुल होता ही नहीं इस प्रकार की स्थिति में सबसे ज्यादा नुकसान किसानों का ही होता है।

एक किसान के लिए उसका खेत ही सब कुछ होता है कोई भी किसान जब खेती करता है तो उसकी यह उम्मीद होती है कि उसकी फसल अच्छी होगी और जिसकी मदद से वह अपने परिवार का जीवन यापन कर सकेगा लेकिन बाढ़ अथवा सूखे की स्थिति में ऐसा नहीं हो पाता।

इसलिए भारत सरकार द्वारा Pradhanmantri fasal Bima Yojana 2016 में स्टार्ट किया गया ताकि यदि इस प्रकार की स्थिति आती है तो किसानों को फसल बीमा योजना के माध्यम से लाभ दिया जा सके। इस बीमा योजना के अंतर्गत सरकार ने किसानों को अलग-अलग फसलों के लिए अलग-अलग प्रीमियम तय किये।

जिसमें प्रीमियम का कुछ हिस्सा किसानों को अपने पास से भरना है और ज्यादातर हिस्सा सरकार अपने द्वारा भरेगी। यदि किसान बीमा के हर एक किस्तों को भरता है तो उसे किसी भी प्रकार की प्राकृतिक आपदा के द्वारा आने वाली समस्याओं में इस बीमा योजना के अंतर्गत लाभ दिया जाएगा।

आज के इस आर्टिकल में इस योजना से जुड़ी जानकारी के साथ साझा करेंगे Pradhanmantri fasal Bima Yojana के बारे में विस्तार से जानने के लिए आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें।

Contents hide

प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना क्या है ?

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना किसानों को बाढ़, सूखा, तूफान, चक्रवात, आग लगने, आदि की स्थिति में किसानों की मदद करने की योजना है।

इस योजना के अंतर्गत भारत के सभी किसानों को किसी भी तरह की प्राकृतिक आपदा से उनकी फसलों को यदि नुकसान होता है तो भारत सरकार इस योजना के माध्यम से उन किसानों को एक निश्चित धनराशि प्रदान करती है। जिसे हम प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के नाम से जानते हैं। इस योजना के अंतर्गत धान, गेहूं, गन्ना, तिलहन, दलहन, कपास, इत्यादि फसलें आते हैं।

सरकार और किसान दोनों पक्षों के द्वारा किस्तें भारी जाएंगी जिसमें एक किसान को ₹600 की किस्त देनी होगी वही सरकार को ₹6000 की किस्त अपनी तरफ से जमा करना होगा। यदि किसी भी प्रकार की प्राकृतिक आपदा के दौरान किसान की फसल पूर्ण रूप से नष्ट हो जाती है तो उस स्थिति में सरकार उस किसान को ₹30000 की बीमा राशि उसके बैंक खाते में भेज देगी।

यह प्राकृतिक आपदा कुछ भी हो सकती है जैसे कि बाढ़, सूखा, भूस्खलन, तूफान, चक्रवात, आग लगना, इस तरह की किसी भी प्राकृतिक आपदा के दौरान फसल खराब होने पर सरकार इस बीमा योजना के अंतर्गत धनराशि प्रदान करेगी।

इसे भी पढ़ें: वृद्धावस्था पेंशन योजना उत्तर प्रदेश | कैसे करें आवेदन ?

प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना के लाभ

  • Pradhanmantri fasal Bima Yojana 2022 का मुख्य लाभ यह है कि प्राकृतिक आपदा द्वारा फसलों को किसी भी प्रकार की हानी यदि होती है तो सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत उस किसान को निश्चित ब्याज दर के अनुसार धनराशि प्रदान की जाएगी।
  • यह धनराशि उस व्यक्ति के बैंक खाते में डायरेक्ट भेज दी जाएगी।
  • इस योजना का लाभ भारत सरकार के किसी भी राज्य से संबंध रखने वाला किसान ले सकता है।
  • यदि व्यक्ति निजी जमीन पर खेती कर रहा है तो इस स्थिति में व्यक्ति को लाभ मिलेगा।
  • लेकिन यदि व्यक्ति किसी अन्य व्यक्ति की खेती ठेके पर कर रहा है फिर भी उसको इस योजना का लाभ मिलेगा लेकिन उसकी कुछ शर्तें भी है।
  • इस योजना के अंतर्गत केवल प्राकृतिक आपदाओं से खराब हुई फसलों पर ही लाभ मिल पाएगा।
  • यदि प्राकृतिक आपदा के कारण किसान खेतों की बोनी नहीं कर पाता है इस स्थिति में उसको लाभ मिलेगा
  • जलभराव, पथराव, भूस्खलन की स्थिति में भी किसानों को लाभ मिलेगा।
  • यदि क्षेत्र की कटाई हो चुकी है लेकिन किसी प्राकृतिक आपदा के कारण अनाजखेत में रह जाने से खराब हो जाता है तो भी किसान को इस बीमा योजना का लाभ मिलेगा।
  • फसलों पर मिलने वाले लाभ फसलों के अनुसार अलग-अलग हैं। खरीफ की फसलों पर 2%, रवि की फसलों पर 1.5% और बागवानी फसलों पर सबसे ज्यादा 5% की ब्याज दर से बीमा का लाभ मिलता है।
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना क़िस्त

प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना खरीफ की अंतिम तारीख

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना 2022 की आवेदन करने की अंतिम तारीख 31 जुलाई 2022 थी। यदि आपने आवेदन कर दिया है तो आपको इस योजना का लाभ जरूर मिलेगा।

लेकिन यदि आपने आवेदन नहीं किया है तो इस साल आप इस योजना का लाभ नहीं उठा पाएंगे लेकिन खरीफ का सत्र बीतने के बाद अगले रवि सत्र के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

इस योजना के ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया के दौरान बहुत से डॉक्यूमेंट की आवश्यकता पड़ने वाली है तो यदि आप ऑनलाइन आवेदन करने जाएं तो इन सभी दस्तावेजों को लेकर जाना ना भूलें-

  • आधार कार्ड किसान के पहचान पत्र के तौर पर
  • पैन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • एड्रेस प्रूफ: यदि आप के आधार कार्ड में पता सही रूप से दिया गया है तो एड्रेस प्रूफ के तौर पर आप अपने आधार कार्ड का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।
  • खसरा खतौनी का प्रिंट आउट
  • बैंक अकाउंट: बैंक खाता किसान का होना चाहिए ना कि उसके परिवार के किसी और सदस्य का।
  • यदि किसान अपने निजी भूमि पर खेती ना करके किसी अन्य की भूमि पर खेती करता है तो खेत के मालिक और उस किसान के बीच हुए समझौते का एक लेटर जमा करना होता है।

प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना ऑनलाइन आवेदन पात्रता

इस योजना के ऑनलाइन करने की पात्रता सिर्फ इतनी है कि आप भारत के किसी राज्य के स्थाई निवासी हों और आप एक साथ इस प्रकार के किसी और बीमा योजना का लाभ आप ना उठा रहे हो।

यदि आप साथ में किसी अन्य बीमा योजना के माध्यम से राशि प्राप्त कर रहे हैं तो इस स्थिति में ऑनलाइन आवेदन करने के बाद आपका आवेदन रद्द किया जा सकता है।

यदि भारत में कोई राज्य ऐसा है जहां पर इस योजना को लागू नहीं किया गया है तो उस राज्य के किसान इसका लाभ नहीं उठा सकते हैं।

इसे भी पढ़ें:UP Private Tubewell Connection Yojana In Hindi

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के मुख्य बिंदु

  • इस फसल बीमा योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना है।
  • बीमा की किस्तों का 90% हिस्सा सरकार खुद भरेगी।
  • किसानों को प्राप्त होने वाली बीमा राशि पहले से निर्धारित कर दी गई है।
  • किस बीमा योजना का नियंत्रण एकमात्र बीमा कंपनी भारतीय कृषि बीमा कंपनी को दिया गया है।
बीमा क्लेम करने की स्थितिबीमा क्लेम ना होने की स्थिति
बाढ़किसी भी प्रकार की युद्ध की स्थिति
सूखापरमाणु हमले की स्थिति
चक्रवातदंगे की स्थिति में
तूफानदुर्भावनापूर्ण फसल की क्षति की स्थिति में
गर्मी के कारण लगने वाली आगचोरी अथवा दुश्मनी के कारण फसल खराब होने की स्थिति में
बिजली के कारण लगने वाली आगघरेलू जानवरों के द्वारा फसल चर जाने की स्थिति में
बुवाई ना होने की स्थिति मेंजंगली जानवरों द्वारा फसल चर जाने की स्थिति में
फसल कटने के बाद खेत में खराब होने की स्थिति मेंअन्य मानवीय आपदाओं के द्वारा फसल बर्बाद होने की स्थिति में

प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का ऑनलाइन आवेदन ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर किया जा सकता है कैसे जानेंगे कौन सी ऑफिशल वेबसाइट है और कैसे आवेदन को कंप्लीट करना है चलिए जानते हैं-

  • सबसे पहले ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं जिसका लिंक मैंने ऊपर दिया है।
  • ऑफिशियल वेबसाइट के होम पेज पर आपको कुछ इस प्रकार का इंटरफेस देखने को मिलेगा जिसमें से आपको सबसे पहले वाले बॉक्सपर क्लिक करना है।
प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना ऑनलाइन आवेदन
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एक मॉडल फॉर्म आ जाएगा। इस मॉडल बॉक्स में Guest Former के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • नए फॉर्मर के रजिस्ट्रेशन के लिए एप्लीकेशन फॉर्म ओपन होकर आ जाएगा। इस फॉर्म में सभी जरूरी जानकारी जो कि लाल स्टार से अंकित है उन्हें भर दें और जो भी डॉक्युमेंट्स अपलोड करने हैं उन्हें भी अपलोड कर दें। डॉक्यूमेंट अपलोड करने के बाद फॉर्म को एक बार सही तरीके से चेक कर ले यदि फॉर्म सही है तो Create User पर क्लिक करें।
  • इस प्रकार अपने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के लिए रजिस्ट्रेशन कर लिया है रजिस्ट्रेशन सक्सेसफुल होने के बाद आपके मोबाइल नंबर पर रजिस्ट्रेशन नंबर भेज दिया जाएगा जिसके द्वारा आप लॉगिन करके इस योजना के लिए आवेदन कर सकेंगे उसका स्टेटस चेक कर सकेंगे और यह भी किसी प्रकार की समस्या है तो आप हेल्प लाइन पर कॉल कर कर भी पूछ सकते हैं।

प्रधानमंत्री फसल बिमा योजना: आवेदन की स्थिति

यदि आपने इस योजना में आवेदन किया है तो आपके मोबाइल नंबर पर रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त हुआ होगा उस रजिस्ट्रेशन नंबर के माध्यम से आप अपने फॉर्म की स्थिति बहुत ही आसानी से चेक कर सकते हैं कैसे करना है-

  • सबसे पहले ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं।
  • हम बीज पर दिख रहे हैं चौथे बॉक्स Application Status पर क्लिक करें।
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने एप्लीकेशन स्टेटस का फॉर्म दिख जाएगा जिसमें आपको रिसिप्ट नंबर अर्थात रजिस्ट्रेशन नंबर और स्क्रीन पर दिख रहे कैप्चा कोड को डालकर चेक स्टेटस के बटन पर क्लिक करो आपके सामने आपकी फोन की स्थिति दिख जाएगी।

पीएम फसल बीमा योजना का लाभ अब कौन से किसान उठा सकते हैं ?

पीएम फसल बीमा योजना देश के हर एक किसान, काश्तकार, बटाई पर खेती करने वाले किसानों के लिए लागू की गई है और यदि वह किसान किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से किसी प्रकार का फसल लोन लिया है तो उनके लिए यह बीमा कराना अति आवश्यक है।

कौन-कौन सी स्थिति में पीएम फसल किसान योजना का लाभ लिया जा सकता है ?

सभी प्राकृतिक आपदाएं जैसे बाढ़, सूखा, भूस्खलन, तापमान के कारण आग लगने, बिजली के कारण आग लगने, फसल की बुवाई ना होने की स्थिति में, खड़ी फसल में कीट रोग लग जाने की स्थिति में, फसल कटने के बाद खेत में नुकसान हो जाने की स्थिति में इस योजना का लाभ लिया जा सकता है।

कौन सी स्थिति में पीएम फसल बीमा योजना का लाभ नहीं लिया जा सकता

प्राकृतिक आपदाओं के अलावा यदि किसी भी प्रकार की मानवीय घटनाओं के कारण आप की फसल बर्बाद होती है इस स्थिति में आप इस योजना का क्लेम नहीं ले सकते हैं। ज्यादा जानकारी के लिए आर्टिकल को पढ़ें।

पीएम किसान फसल बीमा योजना के अंतर्गत एक किसान को कितना प्रीमियम भरना होगा ?

खरीफ की फसल के लिए एक किसान को प्रीमियम का 1.5 प्रतिशत, रवि की फसल का 2% और बागवानी फसल का 5% हिस्सा किसान को अपने पास से भरना होगा। बाकी हिस्सा सरकार अपने पास से किसान के खाते में भरेगी और नुकसान होने की स्थिति में किसान को पूरी बीमा राशि प्रदान की जाएगी।

प्रधानमंत्री किसान फसल बीमा योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

इस योजना के लिए आवेदन दो प्रकार से किया जा सकता है ऑनलाइन अथवा ऑफलाइन यदि आप ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो किसी नजदीकी सेंटर से जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। या फिर खुद के द्वारा ऑनलाइन आवेदन घर बैठे कर सकते हैं। लेकिन यदि आप ऑफलाइन आवेदन करना चाहते हैं तो आपको संबंधित बैंक शाखा पर जाना चाहिए अथवा डिस्टिक लेवल के संबंधित अधिकारी से मिलकर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का आवेदन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में कितनी किस्त भरनी पड़ती है?

इस योजना के अंतर्गत हर सीजन में एक किश्त भरनी पड़ती है यह किस्त उस सीजन की फसल के अनुसार हो सकती है जैसे यदि आप रवि की किस्त की बात करें तो उसके निर्धारित के ₹600 है जो किसान को भरना पड़ता है।

पीएम फसल बीमा योजना की लिस्ट कैसे देखें?

इस योजना की लिस्ट देखने के लिए आपको ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना है। वेबसाइट के होम पेज पर रिपोर्ट का ऑप्शन मिलेगा इस पर क्लिक करने के बाद फॉर्मर की स्टेट वाइज लिस्ट मिलेगी इस पर क्लिक करके आप इस रिपोर्ट को डाउनलोड कर सकते हैं और देख सकते हैं।

पीएम किसान फसल बीमा योजना क्लीन कैसे करें

यदि आपने रजिस्ट्रेशन किया है और आपका रजिस्ट्रेशन सफलता लिया गया है तो नुकसान होने की स्थिति में आ सकते हैं। जिला प्रशासन के माध्यम से, इस स्थिति में आपको कुछ नहीं करना है आपके जिले में प्रशासन द्वारा आपदा घोषित हो गई है तो आपको लाभ मिलेगा।
दूसरा व्यक्तिगत माध्यम से, यदि आप की फसल किसी भी प्राकृतिक आपदा की वजह से बर्बाद हो गई है तो आपको बैंक बीमा कंपनी या फिर सरकार द्वारा नियुक्त अधिकारी को जल्द से जल्द सूचना पहुंचा होता है सूचना पहुंचने के 72 घंटे बाद इस पर कार्यवाही शुरू हो जाएगी और अधिकतम 15 दिनों के अंदर आपको बीमा राशि प्रदान कर दी जाएगी।

Sharing Is Caring:

Hi There! this is Er. Kuldeep a professional blogger, having 5 years of experience in blogging. I love to gather information and write about them. The aim of this blog is to keep you posted with every important update. So, keep visiting and keep learning.

Leave a Comment